☚ लेसन के लिए यहाँ क्लिक करे ।

LESSON 10



दूर संचार क्रांति के युग में भारत


407 words



01 आधुनिक युग नवीनतम वैघ्यानिक आविष्कारों डीके है |

02 आज मानव ने ऐसे – ऐसे यन्त्र बना लिए है, जिनके द्वारा वह समस्त संसार की गतिविधियों को अपने शयन कक्ष में बैठे –बैठे ही जन सकता ह

03 यह कंप्यूटर के अविष्कार का क्रांतिकारी परिणाम है की एक छोटे- से मोनिले फ़ोन से आप न केवल सन्देश, अपितु अतिगोपनीय दस्तावेज की फोटोकॉपी इच्छित व्यक्ति तक सेकंडों में पंहुचा सकते है |

04 कंप्यूटर क्रांति के कारन दूर-संचार एवं सुचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सर्वदिक प्रगति हुई है |

05 आज पुरे विश्व में आर्थिक दृष्टि से विक्सित समाज आदान-प्रदान करने वाले ऐसे समाज का सदस्य बनता जा रहा है जिससे वह कंप्यूटर के बिना एक क्षण भी नहीं रह सकता है|

06 इस तरह वर्तमान में सुचना प्रौद्योगिकी का हर क्षेत्र में उपयोग हो रहा है|

07 हमारे देश में सन 1984 में कंप्यूटर नीति को घोषणा की गई|

08 इसी घोषणा से देश में कंप्यूटर क्रांति का सूत्रपात हुआ |

09 इलेक्ट्रोनिक आयोग के तत्वावधान में दिल्ली में राष्ट्रीय सुचना केंद्र स्थापित किया गया, जिसमें कंप्यूटर साइबर 630 लगाया गया |

10 इस केंद्र से दिल्ली के अनेक विभागों के निर्देशालयो के कंप्यूटर जोड़े गयें, साथ ही राज्यों की राजधानियों एवं मुख्यालयों को सुपर कंप्यूटर के माध्यम से इस प्रकार जोड़ा गया, ताकि सुचना आदान-प्रदान में शीघ्रता एवं महाविध्याल्यो आदि में कंप्यूटर शिक्षा को प्रभावी ढंग से प्रारंभ किया गया |

11 इन सब प्रयासों से आज भारत में सुचना प्रौद्योगिकी का तीव्र गति से प्रसार हो रहा है|

12 दूर संचार एवं सुचना प्रौध्योगिकी के क्षेत्र में पिछले एक दशक में जो क्रांति आई, उसका प्रभाव स्पष्ट दिखाई देने लगा है |

13 आज कंप्यूटर के एक छोटे से पुश बटन को दबाकर विश्व के किसी भी कोने से संपर्क कायम किया जा सकता है |

14 इसके द्वारा त्वरित गति से संदेशों का आदान-प्रदान करना तथा अनेक बातों की जानकारी हासिल करना आसन हो गया है |

15 अब सुचना प्रौद्योगिकी दैनिक कार्यप्रणाली से लेकर चिकित्सा- स्वाथ्य,कृषि, बैंकिंग, बीमा के साथ-साथ शिक्षा के क्षेत्र में भी व्यापक परिवर्तन का आधार बनती जा रही है |

16 अब घर बैठे किसी पुस्तकालय की पुस्तक पढ़ना या किसी भी चिकित्सक से परामर्ष लेने साधारण बात हो गई है |

17 रोजगार, समाचार, परीक्षा परिनाम, रेल-टिकट , आरक्षण आदि के साथ किसी डिपार्टमेंट स्टोर से खरीददारी करना आसन हो गया है|